ਪ੍ਰੇਮਿਕਾ ਦੇ ਵਿਆਹ ਵਿੱਚ ਬੁਲਟ ਲੈ ਕੇ ਆਇਆ ਆਸ਼ਕ , ਫਿਲਮੀ ਸਟਾਇਲ ਵਿੱਚ ਦੁਲਹਨ ਦੇ ਗਲੇ ਵਿੱਚ ਪਾਈ ਵਰਮਾਲਾ , ਫਿਰ ਜੋ ਹੋਇਆ ਉਹ ਕਿਸੇ ਬਾਲੀਵੁਡ ਫਿਲਮ ਨਾਲੋਂ ਘੱਟ ਨਹੀਂ ਸੀ

भारत में लोगो को फिल्मे देखने का बड़ा शौक होता हैं. ये फिल्मे देख देख के ही गली का हर लौंडा खुद को शाहरुख सलमान समझता हैं. इसी के चलते कई बार तो लोग रियल लाइफ में भी पुरे फिल्मी हो जाते हैं. लेकिन आज जो किस्सा हम आपको सुनाने जा रहे हैं वो अपने आप में किसी बॉलीवुड फिल्म से कम नहीं हैं.

उत्तर प्रदेश के नगीना में 24 साल का एक आशिक अपनी प्रेमिका की शादी में बाइक लेकर घुस गया. इतना ही नहीं उसने बाइक को स्टेज के सामने रोका और दूर से ही दुल्हन की ओर वरमाला फेंक दी. लेकिन इतना फिल्मी सीन काफी नहीं था कि आशिक द्वारा फेंकी गई वरमाला सीधा जाकर दुल्हन के गले में जा गिरी. लेकिन मेरे दोस्त कहानी यही ख़त्म नहीं होती हैं. इसके बाद दुल्हन ने जो किया उसने शादी में आए सभी लोगो के होश उड़ा दिए.

अपने बॉयफ्रेंड के इस बहादुरी भरे कारनामे से दुल्हन इतनी खुश हुई कि स्टेज से नीचे उतर कर सीधा उसकी बाइक पर जा बैठी. साथ ही उसने अपने गले की वरमाला अपने बॉयफ्रेंड के गले में भी डाल दी. इस बीच दूल्हा स्टेज पर बेवकुफो जैसा खड़ा ये सोचता रहा कि आखिर ये हो क्या रहा हैं.

हालाँकि हर फिल्म की तरह यहाँ भी कनफ्लिक्ट (समस्यां) पैदा हुआ. जब दुल्हन अपने बॉयफ्रेंड की बाइक पर बैठी तो बरात में आए दुल्हे के रिश्तेदारों ने लड़के को पकड़ के बहुत पिटा. कुछ देर बाद जब पुलिस मौके पर पहुची तो उन्होंने लड़के को गुस्सैल बारातियों से बचाया

जानकारी के मुताबिक ये पूरा वाक्या बीते बुधवार को यूपी के नगीना शहर का हैं. लड़का और लड़की दोनों ही एक ही कॉलेज में पढ़ते थे. लेकिन दोनों के घर वाले इस शादी के लिए राज़ी नहीं थे. दरअसल लड़की, जो कि कॉलेज से एमए. इंग्लिश कर रही थी, एक दलित परिवार से ताल्लुकात रखती हैं. वहीँ लड़का अपर कास्ट (ऊँची जात) का हैं.

नगीना थाने के ऑफिसर सतेन्द्र कुमार सिंह का कहना हैं कि “किसी ने हमें सुचना दी थी कि यहाँ शादी में एक लड़के के साथ मारपीट हो रही हैं जिसके बाद हम शादी वाली जगह पहुंचे और लड़के को लोगो से बचाया. चुकी लड़का और लड़की दोनों ही व्यस्क हैं और अपनी मर्ज़ी से एक दुसरे को चाहते हैं इसलिए इस विषय में कोई भी कानूनी कारवाई नहीं हो सकती हैं. हालाँकि दोनों के परिवार वालो की तरफ से भी कोई शिकायत नहीं लिखवाई गई हैं.

उधर इस पुरे फिल्मी ड्रामा से उदास या फिर कहे गुस्सा दूल्हा अपनी बरात लेकर वापस घर को लौट गया. अब आप लोगो का तो पता नहीं लेकिन हमारे लिए तो ये पूरा किस्सा किसी बॉलीवुड फिल्म की कहानी से कम नहीं था.

वैसे आपका इस पुरे किस्से के बारे में क्या कहना हैं? इसमें किसकी गलती सबसे ज्यादा थी? क्या माता पिता को बेटी की जबरन शादी करणी चाहिए थी? क्या प्रेमी ने बीच शादी में घुस सही किया? अपने जवाब कमेन्ट स्केशन में जरूर देना. साथ ही ये भी बताना कि क्या आप कभी कुछ ऐसा फिल्मी ट्रॉय करना चाहेंगे?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *